खादी ग्रामोद्योग प्रदर्शनी में नाटक ‘जब जागो तभी सबेरा’ ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का दिया संदेश

गोरखपुर

 

गोरखपुर । आजादी का अमृत महोत्सव के अवसर पर मंडलीय खादी ग्रामोद्योग प्रदर्शनी में सामाजिक साहित्यिक एवं सांस्कृतिक संस्था ‘नाट्य दल गोरखपुर’ ने 18 नवंबर दिन गुरुवार को टाउनहाल स्थित कचहरी क्लब प्रांगण में बने मंच पर शाम पांच बजे ‘जब जागो तभी सबेरा’ नाटक कर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का दिया संदेश । प्रदर्शनी 16 नवंबर से शुरु हुआ और ए 30 नवंबर तक चलेगी ।
नाटक का कथानक कुछ इस प्रकार है नाटक की शुरुआत अपने आसपास की साफ सफाई, पर्यावरण दूषित होने से फैलने वाली तमाम बीमारियां, शिक्षा का महत्व आदि को दिखाते हुए कम उम्र में होने वाली बेटियों की शादी और इसके दुष्प्रभाव पर केंद्रित होता है जिससे लड़कियों की कम उम्र में शादी हो जाने से तमाम परेशानियों व दुश्वारियां को झेलना पड़ता है,उनके शिक्षा दीक्षा पर प्रभाव पड़ता है और बेटों की तुलना में बेटियों को कमतर देखा जाता है इसी को ध्यान में रखकर यह नाटक किया गया जिसमें यह संदेश देने की कोशिश की गई कि पढ़े बेटियां बढ़े बेटियां । बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ स्लोगन के माध्यम से लोगों में जनजागरूकता पैदा की गई ।
नाटक में नीलेश्वर तिवारी, पूनम, गिरजेश दुबे, ईश्वर चंद्र राव, प्रियांशु, अभिषेक,रोहित,उपेंद्र तिवारी आदि कलाकारों ने जीवंत अभिनय किया और ढोलक पर कभिषेक रहे । कार्यक्रम का संचालन नाट्य दल गोरखपुर के सदस्य उपेंद्रनाथ तिवारी रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.