भारत की क्रान्तिकारी मज़दूर पार्टी ने चुनाव घोषणा पत्र किया जारी पार्टी के प्रत्याशी मित्रसेन

अम्बेडकर नगर

जिले के थाना राजेसुल्तानपुर क्षेत्र
आज़मगढ़ भारत की क्रान्तिकारी मज़दूर पार्टी की ओर से अराजी देवारा में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव घोषणापत्र जारी किया गया। भारत की क्रान्तिकारी मज़दूर पार्टी के प्रवक्ता प्रसेन ने प्रेस वार्ता में बताया की पार्टी आज़मगढ़ के गोपालपुर विधानसभा क्षेत्र में विधानसभा चुनावों में भागीदारी करेगी जिसमें पार्टी के प्रत्याशी मित्रसेन होंगे। प्रसेन ने कहा कि उत्तर प्रदेश समेत पाँच राज्यों में विधानसभा चुनाव ऐसी स्थिति में होने जा रहा है। जबकि कोरोना महामारी के इस पूरे दौर में सरकार की भयंकर बदइन्तज़ामी व आपराधिक लापरवाही कमरतोड़ मँहगाई बेरोज़गारी बहुत कम मज़दूर चिकित्सा सुविधाओं व खाद्य सुरक्षा के अभाव जैसी वजहों से आम जनता का जीना दूभर हो गया है। भारत की क्रान्तिकारी मज़दूर पार्टी के नेतृत्व में पिछले दिनों देवारा के ही क्षेत्र में अम्बेडकरनगर की सीमा में आने वाले बाढ़ प्रभावित गाँव अराजी देवारा में पुल बनवाने को लेकर एक जुझारू लड़ाई लड़ी और जीती गयी। सभी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बाढ़ पीड़ितों को उचित जगह बसाने और बाढ़ से समुचित सुरक्षा और जीवनयापन के पर्याप्त इन्तज़ाम बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों का विस्तृत सर्वे करके पुलों एवं सड़कों और बाढ़ रोकने के लिये बाँधों का निर्माण करवाना, नदियों की तलहटी में जमा गाद (सिल्ट) की समय-समय पर सफ़ाई कराने के लिये ताकि बाढ़ की विभीषिका को कम किया जा सके और यथासम्भव रोका जा सके और प्रदेश स्तर पर बाढ़ राहत के लिये एक फ़ण्ड का निर्माण कराना। इस चुनाव में भारत की क्रान्तिकारी मज़दूर पार्टी के मित्रसेन ने इस क्षेत्र की समस्या पर बात करते हुए कहा कि क्षेत्र में रहने वाली आबादी की बहुसंख्या बाहर जाकर मज़दूरी करने वालों और स्थानीय स्तर पर खेत, निर्माण आदि क्षेत्रों में काम करने वाले मज़दूरों की है जिनकी जीवनस्थिति बहुत ही भयंकर है और बहुत कम मज़दूरी में उन्हें किसी तरह जीवनयापन करना पड़ता है। भारत की क्रान्तिकारी मज़दूर पार्टी का इस चुनाव साथ ही ग्रामीण इलाक़ों में काम करने वाली आबादी को भी श्रम क़ानून के दायरे में ले आना रोज़गार को मौलिक अधिकार बनाना सरकारी विभागों में सभी खाली पदों पर अविलम्ब भर्ती, सभी भर्तियों को एक छः महीने के अन्दर पूरा करके नियुक्ति पत्र देने का एजेण्डा भारत की क्रान्तिकारी मज़दूर पार्टी का इस चुनाव में प्रमुख मुद्दा है।
भारत की क्रान्तिकारी मज़दूर पार्टी की यह भी माँग है कि प्राथमिक से लेकर उच्च स्तर तक की पूरी शिक्षा को सबके लिए एकसमान और निःशुल्क किया जाये। आज स्थिति यह है कि सरकार और शिक्षा माफ़ियाओं की मिलीभगत से शिक्षा का पूरा तन्त्र बाज़ार में खड़ा कर दिया गया है। इलाक़े की स्वास्थ्य सुविधाओं पर बात करते हुए मित्रसेन ने वही कहा कि पूरे क्षेत्र में स्वास्थ्य सुविधाओं की स्थिति बहुत ही लचर है। छोटी-छोटी बीमारियों के इलाज़ के लिए लोगों को कई किलोमीटर दूर का सफ़र तय करके शहर भागना पड़ता है। ज़्यादातर प्राथमिक व सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र चिकित्सकों और उपकरणों आदि की भयंकर कमी से जूझ रहे हैं। निःशुल्क सार्विक स्वास्थ्य की देखरेख सुनिश्चित करने के लिए मानकों के हिसाब से चिकित्सकों की नियुक्ति की जाये तथा उपकरणों और दवाओं की उपलब्धता हर गाँव तक सुनिश्चित करायी जाये।
घोषणा पत्र जारी किया गया। इस मौके पर चन्द्रपाल रेहान निशू विन्द्रेश रामधनी पुरुषोत्तम, भीम विद्या शिवम रामबचन गौरव अच्छेलाल रमेश रंजन किशन हरिश्चन्द मंशाराम राम उजगागिर राजू सहित बड़ी संख्या में भारत की क्रान्तिकारी मज़दूर पार्टी के वॉलण्टियर व ग्रामीण मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *