कालिकन धाम बिस्तार की योजना के पंख लगे,भीड के होगे इन्तजाम

  • कालिकन धाम बिस्तार की योजना के पंख लगे,भीड के होगे इन्तजाम
  •  देवी भक्तो ने उठाई पर्यटन स्थल घोषित करने की मांग उठाई
  • पार्क से सुदूर श्रद्धालुओ को मिलती है नयी ऊर्जा

अमेठी। प्रसिद्ध प्राचीन पौराणिक कालिकन धाम मन्दिर पर भीड चल रही है। जिसे देखते हुए मंदिर प्रबंधन ने धाम के बिस्तार के लिए योजना बनाई। जिस पर काम चल रहा है। कालिकन भवानी मंदिर के गर्भगृह मे फिलहाल कोई बदलाव होगा। लेकिन मंदिर परिसर के पूरब दिशा,उत्तर दिशा मे बिस्तारीकरण का काम जोर पर चल रहा है पीलर का काम हो चला है। छत भी पड गयी है। मंदिर परिसर मे स्थापित शिव मंदिर,गायत्री मंदिर अब बिस्तार की शोभा मे बाधक नजर दिख रहा है। भब्य,सुरम्य देवी मंदिर परिसर मे श्रद्धालुओ की भीड की कतार लाईन मे खडी करने के लिए मशक्कत धाम प्रबंधन करने मे लगा है। पेयजल,सफाई,वाहन पार्किग,मेला परिक्षेत्र मे इन्टरलाकिग का कार्य भी अधूरा पडा है। मंदिर परिसर मे परिक्रमा मार्ग की तैयारी अभी अवशेष रहा। ग्राम पंचायत,क्षेत्र पंचायत,जिला पंचायत,जिला योजना,स्थानीय विधायक बिकास निधि,स्थानीय सांसद बिकास निधि,पर्यटन बिभाग,संस्कृति एव धर्मार्थ बिभाग की रोशनी का इन्तजार है।

फिर हाल सूरयकुण्ड के लिए योजना चल रही है। जिसे मूर्ति रूप देने का काम चल रहा है। मेला परिसर मे दुकान कतार मे सजने की राह देख रही है। ताला सिरिस्ताबाद के गांव पूरे नेवल के खडेरू गुप्ता छत्तीसगढी ने श्रद्धालुओ के दर्शन मे धूप से बचाव के लिए टीम शेड लगवा दिए। अभी देबी धाम मन्दिर को मालती नदी से जोडने की बात चल रही है। ग्राम पंचायत भौसिहपुर प्रधान अशोक कुमार उपाध्याय उर्फ रज्जू उपाध्याय ने पार्क का निर्माण करवावा कर देवी की आशीष मिल रही है। खण्ड बिकास अधिकारी सगामपुर राज नारायण पाण्डेय,उप जिलाधिकारी अमेठी प्रीति तिवारी,पुलिस उपाधीक्षक ललन सिंह के प्रयास से नवरात्र पर्व पर शन्ति रही। सुरक्षा मे चूक नही हुई। थानाध्यक्ष सगामपुर उमेश चन्द्र मिश्र भी मंदिर पर कडा सुरम्य का पहरा लगा रखा है। जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र से देवी भक्तो बिकास का पेटरा खोलने की मांग उठाई है। पर्यटन स्थल घोषित करने की योजना को अमलीजामा पहनाया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *