राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस एवं सघन दस्त नियन्त्रण पखवाड़ा का आयोजन दो अगस्त से

ब्यूरो रिपोर्ट- प्रेम कुमार शुक्ल, अमेठी

 

अमेठी। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कार्यक्रम के अन्तर्गत जनपद 02 अगस्त 2021 से राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस एवं सघन दस्त नियन्त्रण पखवाड़ा (आई0सी0डी0एफ0) का आयोजन किया जा रहा है। उक्त जानकारी मुख्य चिकित्सा धिकारी डा आशुतोष कुमार दूबे ने दी।
उन्होने बताया कि राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस अभियान के दौरान कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन करते हुए फ्रन्ट लाईन वर्कर आशा, आंगनवाड़ी कार्यकत्री के द्वारा घर घर भ्रमण कर समस्त 01-19 वर्ष तक के बालक बालिकाओं एवं किशोरो को अपनी निगरानी में कृमिनाशक दवा एल्बेण्डाजाॅल (1 से 2 वर्ष को 200 मि0ग्रा0/आधी गोली एवं 2 से 19 वर्ष के बच्चो को 400 मि0ग्रा0) दवा खिलायी जायेगी।इससे बच्चो को कृमि जनित रोगो यथा रक्ताल्पता,कुपोषण से बचाव किया जा सकता है। मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि सघन दस्त नियन्त्रण पखवाड़ा (आई0सी0डी0एफ0) का आयोजन किया जा रहा है। इस पखवाड़े के दौरान 05 वर्ष के कम उम्र के बच्चो के मध्य दस्त के प्रबन्धन एवं उपचार हेतु गतिविधियों आयोजित की जायेगी। तथा कोविड 19 महामारी के प्रोटोकाल का पालन करते हुए आशाओं के माध्यम से घर-घर ओ0आर0एस0 पैकेट का वितरण किया जायेगा। उन्होने बताया कि भारत में प्रति वर्ष लगभग 1.2 लाख बच्चो की दस्त के कारण मृत्यु हो जाती है।बच्चो में दस्त का उपचार ओ0आर0एस0 एवं जिंक की गोली मात्र से किया जा सकता है,एवं बाल मृत्यु दर में कमी लायी जा सकती है।बच्चो में दस्त का मुख्य कारण दूषित पेयजल,स्वच्छता एवं शौचालय का अभाव तथा 05 वर्ष के बच्चो का कुपोषित होना है। उन्होने बताया कि बाल्यावस्था में दस्त के दौरान ओ0आर0एस0 एवं जिंक का प्रयोग करें तथा शुद्व पेयजल स्वच्छता एवं हाथो की सफाई रखकर विभिन्न रोगो से परिवार को सुरक्षित रखे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *