अमेठी में मचीं गदर इस बार तगड़ा मुकाबला

अमेठी। मिशन 2022 विधानसभा सामान्य निर्वाचन की गदर अमेठी में देखते नही बन रही है। इस बार कड़े संघर्ष की कहानी बन चुकी है। जहां कांग्रेस से पूर्व मंत्री आशीष शुक्ल चुनाव मैदान में है। तो वही समाजवादी पार्टी से पूर्वमंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापती की धर्मपत्नी महाराजी देवी चुनावी समर मंे नजर आ रही है। तो वही भारतीय जनता पार्टी में पूर्व संासद डा0 संजय सिंह को चुनाव मैदान में उतारा है। तो बसपा भी इस बार रागिनी तिवारी को उतार कर चुनाव को गदर में बदल दिया। इस बार कोई दल अपने आप को कम आंकने के लिए राजी नही है राजनीति की ज्योतिष भी इस बार के चुनाव में आकड़ा नही लगा पा रही है कि कौन किस कद पे होगा सब अपने आप को राजनीति की महारथ हासिल होने की बात कह रहे है। काफी उतार-चढाव इस बार के चुनाव में देखने को मिल रहा है। जहां गायत्री प्रसाद प्रजापति की पत्नी न्याय मांग रही है और उनकी धर्मपत्नी महाराजी देवी अपनी दोनों बेटियों के साथ-साथ दोनों बेटों को लेकर मैदान छा गयी है। तो वही बसपा की प्रत्याशी रागिनी देवी भी तिल को ताड़ बनाने से नही चूक रही है। और दमदारी से चुनाव मैदान में बाजी मारने की फितरट हासिल की है। तो वही कांग्रेस प्रत्याशी आशीष शुक्ल बिना लागलपेट के इस बार के चुनाव मंे नजर आ रहे है कि चुनाव का फैसला जनता करेगी और जनता के लिए हर कुर्बानी देने को तैयार हूॅ। इस बार बांका नही जायंेगा तो भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी डा0 संजय सिंह अरसे बाद राजनीति में वापसी की है। इन्होंने राजनीति के हर पहलुओं पर जांचा परखा है। पार्टी ने इन्हें इस बार अमेठी से फतेह करने की जिम्मेदारी सौपी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *