शिवराज सरकार का बड़ा एलान- गेहूं एक्सपोर्टर को MP में नहीं देना होगा मंडी टैक्स

ब्यूरो रिपोर्ट- हरेन्द्र कुमार यादव

 

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राज्य के उच्च गुणवत्ता के गेहूं के निर्यात के लिए बड़ी घोषणा की है. उन्होंने नई दिल्ली में देश के बड़े गेंहू निर्यातकों के साथ बैठक में कहा, हमने तय किया है कि निर्यात पर हम मंडी टैक्स नहीं लेंगे. एक लाइसेंस पर पूरे प्रदेश से निर्यात के लिए गेहूं लिया जा सकता है.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चाहते हैं कि देश से अधिक से अधिक गेंहू का निर्यात हो. उन्होंने बताया कि इस समय 30 लाख मिट्रिक टन गेहूं मध्य प्रदेश के पास रखा है. मध्य प्रदेश अब गेंहू उत्पादन का केंद्र है.पिछले दो सालों से हम करीब 1.29 करोड़ मीट्रिक टन गेहूं का उत्पादन कर रहे हैं. मध् यप्रदेश के गेहूं की गुणवत्ता बहुत अच्छी है.मध्य प्रदेश के शरबती गेहूं को गोल्डन ग्रेन भी कहा जाता है.निर्यातक ऑनलाइन माध्यम से भी स्थानीय व्यापारियों की मदद से निर्यात के लिए गेंहू ले सकते हैं.

निर्यातकों के साथ बैठक में केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल, केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति और एग्रिकल्चर सेक्रेटरी शामिल हुए. कई एक्सपोर्टर वर्चुअल मॉड से जुड़े थे. इस बैठक की जानकारी शिवराज सिंह चौहान ने ट्विटर पर भी दी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *