आजमगढ़ में सीएम योगी का तूफानी दौड़ा, अधिकारियों को दी शाबाशी

आजमगढ़: आज जनपद आजमगढ़ में मुख्यमंत्री का दौड़ा रहा वही प्रशाशन पूरी तैयारी कर चूका था जिसको देखकर मुख्यमंत्री काफी खुश नज़र आये उन्होंने अधिकरिओ को साबशी दिया आपको बता दे कि कोविड के संक्रमण से निबटने को लेकर अपने प्रदेश व्यापी दौरे के क्रम में आजमगढ़ जनपद में पहुंचे प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ फ़ौरन एक्शन में दिखाई दिए। सबसे पहले पुलिस लाइन से सीधे राजकीय बालिका इंटर कॉलेज में इंटीग्रेटेड कोविड कंट्रोल कमांड सेंटर पहुंच कर व्यवस्था की जानकारी लि। यहां पर पीड़ित लोगों से बातचीत व उनको सलाह देने के बारे में तैनात कर्मचारियों से पूछा। जीजीआईसी से सीधे उनका काफ़िला आजमगढ़ शहर से सटे भंवरनाथ देवखरी व बिजौरा गांव पहुंचा। बिजौरा में कंटेनमेंट जोन का निरीक्षण किया। वहां बैंक के कर्मचारी पीड़ित परिवार से उन्होंने कोविड से निबटने को की जा रही सरकारी व्यवस्था की जानकारी ली। वही देवखरी स्थित गांधी गुरुकुल इंटर कॉलेज में उन्होंने नवनिर्वाचित प्रधान व एएनएम से भी पूछताछ की। प्रधान से उन्होंने निगरानी समिति के बारे में पूछा और सरकारी सहयोग को लेकर भी बात की। सैनिटाइजेशन व जागरूकता अभियान को लेकर भी पूछताछ की। वही नवनिर्वाचित प्रधान रूपेश सिंह को चुनाव जीतने पर बधाई देने के साथ ही शपथ ग्रहण के बारे में भी बात की। इसके अलावा एएनएम अर्चना सिंह से उन्होंने गांव में सर्वे, घरों में कोविड की जांच व दवा वितरण के बारे में पूछा जिसका अर्चना सिंह ने जवाब दिया। खास बात यह रही कि जैसे ही मुख्यमंत्री का हेलीकॉप्टर पुलिस लाइन के मैदान में उतरा वहां पर उनका जनपद के अधिकारियों के साथ ही भाजपा नेताओं ने स्वागत किया मुख्यमंत्री ने भाजपा नेताओं को जागरूक करने, का वैक्सीनेशन कराने, सरकारी राशन गरीबों में वितरित कराने व कोविड-19 से निपटने को लेकर पूरी तरीके से सक्रिय हो जाने को कहा। मुख्यमंत्री आजमगढ़ जिला मुख्यालय से करीब 25 किलोमीटर दूर चक्रपानपुर में स्थित राजकीय मेडिकल कॉलेज व सुपर फैसिलिटी अस्पताल में बने कोविड व नॉन कोविड वार्ड की व्यवस्था की जानकारी को लेने हेलीकॉप्टर से वहां रवाना हो गए। मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा व्यवस्था की गई थी और भारी फोर्स तैनात थी इसके बाद भी जैसे ही मुख्यमंत्री का हेलीकॉप्टर मैदान पर उतरा उस दौरान एक गाय आ गई जिससे सुरक्षा की चूक को लेकर अधिकारियों में हड़कंप मच गया था लेकिन पुलिस अधिकारिओ कि तत्परता कि वजह से कोई घटना घटने के पहले ही पुलिस ने गाय को अपने कण्ट्रोल में कर लिया था

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *