छात्रा की रहस्यमय मौत के मामले में नया मोड़

गृहविज्ञान के विभागाध्यक्ष व सहयोगियों पर हत्या का मुकदमा दर्ज

 

ब्यूरो रिपोर्ट – हरेन्द्र यादव, गोरखपुर 

गोरखपुर; दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय की बीएससी तृतीय वर्ष गृह विज्ञान की छात्रा 19 वर्षीया प्रियंका की मौत के मामले में कैंट थाना पुलिस ने रविवार को विश्वविद्यालय के गृहविज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष व सहयोगियों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। बावजूद इसके मृतका के स्वजन अंतिम संस्कार के लिए तैयार नहीं है। उनकी मांग है कि प्रियंका का दुबारा पोस्टमार्टम कराया जाए। वह अपनी मांग को लेकर अपने घर के बाहर ही धरने पर बैठ गए हैं। उनके समर्थन में कांग्रेस सहित विभिन्न संगठनों के छात्र मौजूद है।
मृतका का दुबारा पोस्टमार्टम कराने को लेकर अड़े स्वजन
गुलरिहा के शिवपुर साहबाजगंज पोखरा निवासिनी प्रियंका का शव शनिवार पूर्वाह्न विश्वविद्यालय के गृहविज्ञान विभाग के स्टोर के पास फंदे से लटकता शव मिला था। वह विश्वविद्यालय में परीक्षा देने गई थी। शनिवार देर रात चिकित्सकों की दो सदस्यीय टीम ने उसके शव का पोस्टमार्टम किया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत की वजह लटकने के चलते सांस फूलना बताया जा रहा है, लेकिन स्वजन इसे मानने को तैयार नहीं हैं। उनका कहना है कि उनके पुत्री हत्या की गई। देरशाम प्रियंका के पिता विनोद की तहरीर पर पुलिस ने विश्वविद्यालय के गृहविज्ञान विभाग की विभागाध्यक्ष व उनके सहयोगियों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज किया है।

समर्थन में उतरे छात्र व विभिन्न संगठनों के छात्र नेता
बावजूद इसके मृतका के स्वजन प्रियंका के अंतिम संस्कार के लिए राजी नहीं हुए। वह घर के बाहर ही धरने पर बैठ गए। उनके साथ कांग्रेस जिलाध्यक्ष निर्मला पासवान सहित तमाम छात्र नेता धरने को समर्थन कर रहे हैं। उनका कहना है जिला प्रशासन पांच सदस्यीय चिकित्सकों की टीम से छात्रा का दुबारा पोस्टमार्टम कराए। चिकित्सकों की टीम में तीन चिकित्सक दलित जाति के हैं। प्रभारी एसएसपी/एसपी सिटी सोनम कुमार का कहना है कि अभी हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। बाद में साक्ष्यों के आधार पर कार्रवाई होगी।

आज होगा अंतिम संस्कार;
प्रियंका के भाई मनीष का कहना है कि जिला प्रशासन ने उन्हें आश्वास्त किया है कि उनकी मांगें पूरी की जाएंगी। पोस्टमार्टम दो चिकित्सकों के पैनल के द्वारा किया गया है। उसकी वीडियोग्राफी की गई है। सोमवार को दिन में पोस्टमार्टम का वीडियो स्वजन को दिखाने के लिए कहा गया है। ऐसे में वह सुबह राजघाट पर प्रियंका का दाह-संस्कार करेंगे।

लोकतांत्रिक जनता दल ने भी घटना की निंदा की

लोकतांत्रिक जनता दल के शिवपुर सहबाजगंज स्थित कैंप कार्यालय पर प्रदेश उपाध्यक्ष अश्वनी कुमार पाण्डेय की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में प्रियंका की मौत की निंदा की गई। उन्होंने घटना की उच्चस्तरीय जांच की मांग की। बैठक में लोकतांत्रिक जनता दल के जिलाध्यक्ष दिनेश शाही, प्रदेश महासचिव गौतम लाल श्रीवास्तव, अयोध्या प्रसाद साहनी आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *