सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने विधायक स्वर्गीय केदार नाथ सिंह कि प्रतिमा पर माल्यार्पण किया

संवाददाता- संजय कुमार श्रीवास्तव, गोरखपुर

गोरखपुर। समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल के नेतृत्व में किसान – नौजवान – पटेल यात्रा खेत खलिहान कुटीर उद्योग बचाओ रोजगार दो का जनपद में जगह जगह स्वागत हुआ गोरखपुर की सीमा में प्रवेश करने पर चौरीचौरा फुटहवा ईनार , मोतीराम अड्डा, रामनगर कडजहां , बनसप्ति मंदिर, सुबा बाजार, कूड़ाघाट, मोहद्दीपुर, विश्वविद्यालय चौराहा पर स्वागत हुआ। शहर पहुंचे सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने सर्वप्रथम पूर्व विधायक स्वर्गीय केदार नाथ सिंह के आवास पहुंचकर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया तत्पश्चात जिला/महानगर सपा के नेतृत्व में नेपाल क्लब निकट आरटीओ ऑफिस में स्वागत हुआ । यहां हुई सभा की अध्यक्षता निवर्तमान जिला अध्यक्ष नगीना प्रसाद साहनी ने तथा संचालन निवर्तमान महानगर अध्यक्ष जियाउल इस्लाम ने किया। मंच पर पार्टी नेताओं द्वारा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल को चांदी की साइकिल व मोमेंटो भेंट किया गया सभा को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने कहा कि भाजपा की गलत नीतियों के कारण नौजवान, किसान सहित हर तबका परेशान है। महंगाई लगातार बढ़ती जा रही है। डीजल, पेट्रोल, बिजली, दवा, गैस सिलेंडर के दाम बढ़ रहे हैं, जबकि भाजपा ने 90 दिन के अंदर महंगाई पर नियंत्रण करने का वादा किया था। जनता को धोखा दिया गया है, किसानों से छल किया गया है। इससे आम जनता भाजपा से नाराज है। आज दो करोड़ किसान सरकार से याचना कर रहे हैं कि हमें न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी दे दो लेकिन सरकार नहीं दे रही है। उत्तर प्रदेश में क्रय केंद्र खोले गए लेकिन केवल आठ फीसद धान – गेहूं की खरीद हो पाई। 92 फीसद किसानों को बिचौलियों के जरिये धान-गेहूं बेचना पड़ा। उन्होंने सरकार से कहा किसानों से किया वादा पूरा करो, न कर सको तो हटो। सरकार केवल उद्योगपतियों को बढ़ावा दे रही है। सरकार कहती है कि किसानों की आय दोगुनी कर दी गई, नौजवानों को रोजगार दिया गया। यह झूठ है। उत्तर प्रदेश की बदहाली की जिम्मेदार भाजपा है। भाजपा की गलत नीतियों के कारण आर्थिक विषमताएं बढ़ी हैं। उद्योगपतियों के हित में काम हो रहा है, किसानों के सवालों की अनदेखी की जा रही है। सरकार कहती है कि साढ़े चार लाख युवाओं को रोजगार दिया गया। लेकिन वादा तो दो करोड़ को देने का था, उसका क्या हुआ। उत्तर प्रदेश में अपराध की घटनाएं बढ़ी हैं। इसलिए कोई उद्योगपति यहां उद्याेग लगाने को तैयार नहीं है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के समय में प्रदेश में अपराध पर पूरी तरह नियंत्रण हो गया था। कोरोना के नाम पर भी करोड़ों रुपये की लूट हुई है। सरकार बीमारियों व बाढ़ पर भी नियंत्रण नहीं कर पाई। डेंगू से मरने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है।
कार्यकर्ता बूथों तक जाएं, भाजपा के झूठ की पोल खोलें। सरकार सरकारी तंत्र को बर्बाद कर निजी तंत्र को बढ़ावा दे रही है। यह बात जनता समझ चुकी है। इसलिए अब सपा के साथ आ रही है। इस यात्रा के दौरान मैंने महसूस किया जनता सरकार से नाराज है। 2022 में सपा सरकार बनाएगी। नौजवानों को रोजगार व किसानों को फसलों का उचित मूल्य मिलेगा। प्रदेश की कानून व्यवस्था ठीक हो जाएगी। बूथों की तैयारी शुरू कर दें, कोविड वैक्सीन की दोनों डोज लगवा लें। क्योंकि पोलिंग एजेंट वही बनेगा, जिसे कोविड वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी है।

कार्यक्रम में प्रमुख रूप से निवर्तमान जिला अध्यक्ष नगीना प्रसाद साहनी, जियाउल इस्लाम, अखिलेश यादव, अखिलेश कटियार, संतोष यादव सनी, डॉ मोहसिन खान, पूर्व जिलाध्यक्ष अवधेश यादव, पूर्व जिलाध्यक्ष प्रहलाद यादव, शहाब अंसारी, धर्मेंद्र सोलंकी, बिंदा देवी, सत्येंदराम अजोर मौर्य , प्रभुनाथ सोनकर, वरिष्ठ सपा नेता रामप्रवेश यादव, प्रदेश युवजन सभा व सभासद अमरनाथ यादव, विश्वजीत त्रिपाठी, ओम प्रकाश यादव, शकील शाही, अशोक यादव, चंद्रदेव यादव , अजमल एडवोकेट, जनार्दन सिंह फौजी, अजय यादव, घनानंद यादव, आफताब अहमद, अनुराग श्रीवास्तव, अभय सिंह, सुनील आजाद, अमरनाथ यादव, विक्की निषाद, सहादत अली, पन्ने लाल कनौजिया, सिराजुद्दीन रहमानी, तेरस यादव, जानकी देवी, आरबी यादव, नीलम पांडे, सौरभ विश्वकर्मा, कंचन श्रीवास्तव, अनिल श्रीवास्तव, रामनाथ यादव, अमर अग्रहरि आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *