खुशहाल दिवस पर जनपद की 2500 महिलाओं ने परिवार कल्याण योजनाओं का उठाया लाभ- सीएमओ

 

अमेठी| जनपद में मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में कमी लाने में परिवार नियोजन सेवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। समुदाय स्तर पर परिवार नियोजन को बढ़ावा देने, इसके प्रति जागरूकता लाने और इसकी स्वीकार्यता बढ़ाने के लिए विभाग लगातार प्रयास कर रहा है। इसी क्रम में जनपद में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर खुशहाल परिवार दिवस का आयोजन किया गया, कार्यक्रम में दंपति को परिवार नियोजन के साधनों के बारे में जागरूक किया गया, इस सम्बंध में जनपद के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. आशुतोष कुमार दुबे ने बताया कि खुशहाल परिवार दिवस के आयोजन का प्रमुख उद्देश्य समुदाय में परिवार नियोजन की जागरूकता तथा स्वीकार्यता बढ़ाना है। परिवार नियोजन को बढ़ावा देने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए जनपद के सीएससी पीएचसी पर खुशहाल परिवार दिवस का आयोजन किया गया, कार्यक्रम में हाई रिस्क प्रेगनेंसी एचआरपी वाली महिलाएं , लक्षित समूह में नव विवाहित दंपति को चिन्हित किया गया, इस विशेष दिन पर प्रत्येक चिकित्सा इकाई में नए और ऐसे दंपति जिन्हें परिवार नियोजन अपनाना चाहिए, उनको प्रेरित करने के लिए उनकी मुलाकात परिवार नियोजन के स्थायी साधन अपनाने वाले संतुष्ट दंपति से कराकर उनके अनुभव की जानकारी दी गई, इसके साथ ही ऐसी महिलाएं जिनका प्रसव एक वर्ष से कम समय पहले हुआ है और उनकी प्रसव की स्थिति उच्च संकट गर्भावस्था की रही है, ऐसे जोड़ों को खुशहाल परिवार दिवस पर बुलाकर उन्हें पोषण और परिवार नियोजन के साधनों को अपनाने के लिए विशेष रूप से प्रेरित किया गया, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर दुबे ने बताया कि जनपद में सभी केंद्रों को मिलाकर 2500 महिलाओं ने खुशहाल दिवस कार्यक्रम का लाभ उठाया ,इस कार्यक्रम के माध्यम से अंतरा के चालीस,आईसीडी-75 , छाया -180 , ईसीटी- 90 , माला एन 250 ,नसबंदी -एक कंडोम 800 लोगो ने लाभ उठाया,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *