महिलाओं के खिलाफ हिंसा और भेदभाव के उन्मूलन हेतु आयोजित किया गया जागरूकता कार्यक्रम।

अमेठी , जिला प्रोबेशन अधिकारी अनिल कुमार मौर्य ने बताया कि 25 नवंबर 2022 को महिलाओं के खिलाफ हिंसा और भेदभाव के उन्मूलन के लिए अंतरराष्ट्रीय दिवस के रूप में एवं 10 दिसंबर को प्रत्येक वर्ष अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस के रूप में मनाया जाता है जिसके मध्य 16 दिन के अंतराल की अवधि में महिलाओं के खिलाफ सभी प्रकार की हिंसा, भेदभाव उन्मूलन के बारे में जागरूकता अभियान चलाए जाने के का निर्णय लिया गया है जिसके क्रम में आज वन स्टॉप सेंटर अमेठी टीम द्वारा श्रीमती यशोदा देवी बालिका इंटर कॉलेज नौगिरवा विकासखंड भेटुआ में महिला कल्याण विभाग द्वारा संचालित बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, मिशन शक्ति, वन स्टॉप सेंटर, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना (सामान्य/ कोविड), पति की मृत्यु के उपरांत निराश्रित महिला पेंशन योजना सहित विभिन्न लाभार्थी पारक योजनाओं का व्यापक रूप से प्रचार-प्रसार कर जागरूक किया गया। विद्यालय में बच्चों को बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम तथा पास्को अधिनियम के बारे में भी विस्तृत जानकारी प्रदान करने के साथ ही सुरक्षा, सम्मान व स्वावलंबन के लिए सरकार द्वारा संचालित विभिन्न हेल्पलाइन नंबर यथा 1090 विमेन पावर लाइन, 181 महिला हेल्पलाइन, 1076 मुख्यमंत्री हेल्पलाइन, 112 पुलिस आपातकालीन सेवा, 1098 चाइल्ड लाइन, 102 स्वास्थ्य सेवाएं तथा 108 एंबुलेंस सेवा के बारे में बालिकाओं/महिलाओं को जागरूक किया गया। इस अवसर पर वन स्टॉप सेंटर से आरती, सुप्रिया एवं महिला पुलिस की टीम उपस्थित रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *