बीओबी टाइनी प्रबंधक को गोली मारी, ट्रामा सेन्टर

ब्यूरो रिपोर्ट- प्रेम कुमार शुक्ल, अमेठी

अमेठी। अब ब्यापारी भी जिले में सुरक्षित नहीं है। यह तो ब्यापारी है। जिन्हें गोली बदमाशों ने दिन दहाडे मारी है। अभी चन्द माह पहले मुसाफिरखाना में तैनात पुलिस उप निरीक्षक को शतिर बदमाशों ने वाहन चेकिंग के दौरान अपहरण कर लिया। अमेठी पुलिस मौन हो गई। शतिर बदमाशों से समझौता कर पुलिस उप निरीक्षक सुरक्षित वापस लौटना मुनासिब समझा। तो ऐसे आम आदमी जिले कैसे सुरक्षित हैं। शनिवार को मृत्युंजय मित्र पुत्र हरिशंकर मिश्र उम्र लगभग 32 वर्ष निवासी ग्राम किशुंदासपुर थाना मुसाफिरखाना जनपद अमेठी के निवासी हैं जो बैंक ऑफ बड़ौदा का जन सेवा केंद्र ग्राम भीखीपुर चौराहा थाना क्षेत्र मुसाफिरखाना मे खोल कर जन सेवा का कार्य करते हैं दिन के 11:00 बजे तीन अज्ञात बदमाश मोटरसाइकिल से आए। इनके पास रखे हुए पैसे की लूट करने का प्रयास करने लगे इनके विरोध करने का प्रयास किया गया तो बदमाशों ने मृत्युंजय मिश्र को गोली मार दी गई गोली इनके गर्दन में लगी स्थानीय लोगों ने इलाज हेतु प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मुसाफिरखाना ले जाया गया इनकी प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टरों ने ट्रामा सेंटर लखनऊ रेफर कर दिया गया। थाना मुसाफिरखाना की फोर्स मौके पर पहुंचकर जांच कर रही ।लेकिन गामीण ने दौड़कर शतिरो को पकडा और पुलिस को सौंप दिया। सारे दिन दहाडे लूटपाट हो रही है। पुलिस अनजान बनीं है। लोग अब सुरक्षित नहीं है। अपराधियों का बोलबाला है। योगी आदित्य नाथ की पुलिस सोई हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *