स्थापना दिवस पर खून से पत्र लिखकर संजय निषाद ने की आरक्षण की मांग

– निषाद पार्टी के स्थापना दिवस पर राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय निषाद ने मछुआरा समाज को आरक्षण दिए जाने की उठाई मांग

– निषाद पार्टी के कार्यकर्ताओं ने स्थापना दिवस पर राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद प्रवीण निषाद को का माला पहना कर किया स्वागत

पादरी बाजार। निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल (निषाद) पार्टी का छठां स्थापना दिवस पादरी बाजार एक लॉन में हर्षोल्लास से मनाया गया।
इस दौरान निषाद पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजय निषाद व संतकबीरनगर सांसद प्रवीण निषाद का माला पहनाकर स्वागत किया।
कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय निषाद ने अपने खून से मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री, गृह मंत्री व भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष को संबोधित एक पत्र लिखा।
पत्र के जरिए उन्होंने मछुआरा समाज के लोगों को अनुसूचित जाति में शामिल किए जाने की मांग की।
उन्होंने कहा कि मछुआरा समाज के लोगों को वर्ष 1992 से आरक्षण नहीं मिल रहा है। इससे पहले उन्हें अनुसूचित जाति के आरक्षण का लाभ मिलता था। उन्होंने आगे कहा कि इस संबंध में गृह मंत्री अमित शाह,भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने आरक्षण के फैसले को लेकर आश्वासन दिया है। उन्होंने आगे कहा कि जब तक समाज के आखिरी व्यक्ति तक समानता का सभी अधिकार नहीं मिल जाता तब तक निषाद पार्टी आरक्षण की लड़ाई लड़ती रहेगी। पार्टी तब तक चैन से नहीं बैठेगी जब तक मछुआरा समाज को दोबारा आरक्षण ना दिलवा दे।
सांसद प्रवीण निषाद ने कहा कि सदन में जब भी उन्हें अपनी बात रखने का मौका मिला है। उन्होंने मछुआरा समाज के लोगों के आरक्षण की बात की है।
राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय निषाद ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में निषाद पार्टी अपने सिंबल पर उम्मीदवार उतारेगी। साथ ही जीत दर्ज कर विधानसभा में निषादों के हक की लड़ाई लड़ने के लिए आवाज बुलंद करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *