मजदूरों के पेट पर घात कर रहे आजम रबर प्रोजेक्ट के जिम्मेदार ,

ब्यूरो प्रमुख – एन. अंसारी

  • गीडा स्थित ARP कम्पनी के रवैये से भुखमरी के कगार पर मजदूर
  • मजदूरों का पैसा हड़प कर भागने के फिराक में आजम खान ,

गीडा – गोरखपुर । उत्तर प्रदेश सरकार जहां मज़दूर को रोजगार देने को लेकर उद्योग धंधों पर बढ़ावा दे रही है । तो वहीं गोरखपूर जनपद में गीडा क्षेत्र में चल रही आजम रबर प्रोजेक्ट, (ARP) कम्पनी मजदूरों के पेट पर लात मार रही है । मजदूर बीस बर्षो से कम्पनी में सेवा देते हुए भुखमरी के कगार पर आ गए है । वही जिम्मेदार के अड़ियल पन रवैये व कम्पनी मालिक आजम खां मजदूरों पर सितम गिरा रहे है । कोरोना का हवाला देकर घाटे की कहानी बताकर मजदूरों से पीछा छुड़ाने पर आतुर ।बर्बरता की हद पार किये ARP तानाशाह रवैये पर उतारू हो चुकी है। मजदूर कम्पनी में अपनी मजबूरी बयाँ नही कर पा रहे है ।रोजगार छीनने का आरोप लगा रहा है । तीन माह में अधूरे बेटन देने की बात बता रहे है ।कम्पनी बेच का भागने की बात बता रहे है ।
बताते चले कि गोरखपुर जनपद के औद्योगिक क्षेत्र गिड़ा में स्थित ARP फुट कम्पनी में मजदूरों का घोर उत्तपिडन होता नजर आया । मजदूर बन्द गेट के अंदर आज अपनी बात मीडिया के सामने रखने पर मजबूर है। मजदूरों का अब मीडिया से भी विश्वास उठता नजर आ रहा है । मजदूरो में बड़ी भय देखा गया ।मीडिया को भी धन पतियों के आगे घुटने टेकने की बात सामने आई । किसी ने मजदूरों की पीड़ा पर आवाज नही उठाई । उक्त पीड़ा ARP फुट कम्पनी के लेबरों मुख से दबे जुबान सुनने को मिला । एक आवाज में मजदूर अपनी पीड़ा चिल्लते हुए आपबीती बताया । कम्पनी में गेट पर प्रदर्शन में रहे मजदूर भालचंद कनौजिया , आलमगीर , राजेश यादव , गुड्डू खान , रघुबंश मणि त्रिपाठी , राजेश शुक्ल इत्यादि दर्जनों वर्कर एक स्वर में अपनी पीड़ा मीडिया से बतायी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *