पत्रकारिता करना या किसी न्यूज़ चैनल से जोड़ने से पहले उसका उद्देश्य

ब्यूरो रिपोर्ट – प्रेम कुमार शुक्ल, अमेठी

पत्रकारिता करना या किसी न्यूज़ चैनल से जोड़ने से पहले उसका उद्देश्य जानिए घर के खर्च के लिए या जीवन यापन के लिए पत्रकारिता नहीं करना चाहिए पत्रकारिता को भारत देश का का चौथा स्तंभ माना गया है इसमें सदैव पारदर्शिता होनी चाहिए जो यह खबर आपके द्वारा चलाई गई है यह सरासर झूठ है 20 साल से जिस रास्ते को लेकर माननीय न्यायालय में मुकदमा चल रहा है उस जमीन पर स्थगन आदेश है एस सी होने के नाते 20 साल से रास्ता बंद किए हुए हैं दूर से खबर चलाने से अच्छा आप नजदीक आकर यथास्थिति को देखिए
जिस व्यक्ति की आप बाइट लिए हैं इसके पहले भी कई बार फर्जी तरीके से एससी एसटी का मुकदमा दर्ज करा कर सरकार द्वारा पैसा लेना चाहता है सन 2019 से लगभग 1000 प्रार्थना पत्र गलत तरीके व फर्जी मनगढ़ंत तरीके से बार-बार हर जगह प्रेषित करता है

Leave a Reply

Your email address will not be published.