मानवता की रक्षार्थ सर्वप्रियकोई भूखा न सोए।

संवाददाता- बी.पी. मिश्र, गोरखपुर

गोरखपुर |  अपने लिए तो सब जीव जीते ही हैं, जो दूसरों के लिए जिए, दूसरों की मुस्कान व खुशी के काम आए असल में इंसान का वही सच्चा जीवन है। सेवा जीवकल्याण का मार्ग ही भटके हुए मनुष्य को सही राह दिखाता है। सेवाभाव उस मां की गोद की तरह है, जिसका परमसुख एक छोटे बच्चे की भांति ईष्वरीय भक्ति में समर्पित प्राणी ही समझ सकता है। तो जब भी आपको मानव सेवा,जीव सेवा का अवसर ऊपरवाला प्रदान करें तो बस समझिए ईश्वर/अल्लाह खुद आपके लिए मौका दे रहे अपने काम के लिए, बस खरा उतरना है उस मानवीय जीवन के कार्य में। मानव कल्याण, मानव अधिकारों की रक्षा ही संगठन का मूल उद्देश्य होना चाहिए।जीव ही जीव का पूरक है, बस समझने की जरूरत है।। लोगों को जागरूक करना ही संगठन का मूल उद्देश्य होना चाहिए।
यह बातें आल इंडिया मानवाधिकार संगठन के जिला अध्यक्ष मो रज़ी ने कही।इस पुनीत कार्यक्रम के लिए विशेष रूप से मीडिया प्रभारी मो शहाब हुसैन,अनिल पाण्डेय, राजेन्द्र निषाद,राजू शर्मा,महफूज़ अली,वसीम खान ,बी डी अंसारी ,आदि समाजसेवियों का सहयोग से भोजन पानी आदि का वितरण गोरखनाथ पुल, नक्को शाह बाबा परिसर,स्टेशन गोरखपुर आदि पर किया गया ।

विशेष आभार महासचिव पन्ने लाल यादव एवं प्रदेश अध्यक्ष बी एन शर्मा का रहा जिनके निर्देशन में यह कार्यक्रम सफल हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.