Ganesh Chaturthi: कोविड-19 के कारण मुंबई में लगाया गया धारा-144

ब्यूरो रिपोर्ट- सुनील विष्णु चिलप, महाराष्ट्र

मुंबई: दस दिवसीय गणेश चतुर्थी उत्सव शुक्रवार से शुरू हो गया। यह आमतौर पर महाराष्ट्र में बहुत उत्साह के साथ मनाया जाता है। लेकिन ये लगातार दूसरा साल है जब कोरोना के चलते इस त्योहार की धूम कुछ कम होगी। महाराष्ट्र सरकार ने अगले दस दिनों में त्योहार से संबंधित समारोहों और जुलूसों से बचने के लिए कई प्रतिबंध लगाए हैं। मुंबई में धारा 144 लगा दी गई है।

सामुदायिक पंडालों में भगवान गणेश के दर्शन पर रोक लगा दी गई है। इसके बजाय, पंडालों से केवल ऑनलाइन ‘दर्शन’ और लाइव प्रसारण की अनुमति है। वहीं पंडालों में मूर्तियों को लाने के लिए केवल दस  लोगों (जिन्हें पूरी तरह से टीका लगाया जा चुका है) को ही अनुमति दी जाएगी।

स्थापित की जा सकने वाली मूर्तियों की ऊंचाई भी प्रतिबंधित कर दी गई है। पंडालों में स्थापित मूर्तियाँ 4 फीट से अधिक ऊँची नहीं हो सकती हैं और घर में स्थापित मूर्तियां अधिकतम दो फीट ऊँची हो सकती हैं। प्रशासन ने मूर्तियों के विसर्जन के दौरान भी प्रतिबंध लगा दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *