झगहा डबल मर्डर हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा

संवाददाता- धर्मेंद्र कुमार, गोरखपुर

  • एक्स बॉयफ्रेंड ने प्रेमिका के दूसरा प्रेमी बनाने पर दोनों युवकों की कुल्हाड़ी से मारकर हत्या
  • एसएसपी ने गिरफ्तार करने वाली टीम को 25000 का नगद दीया इनाम

 

गोरखपुर। झंगहा थाना अंतर्गत 25 जनवरी 2022 को गड्ढे में लाश मिलने की घटना का किया सफल अनावरण पुलिस अधीक्षक उत्तरी मनोज कुमार अवस्थी व पुलिस अधीक्षक नगर सोनम कुमार ने पुलिस लाइन व्हाइट हाउस सभागार में प्रेस वार्ता कर बताया कि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में झगहा पुलिस घटना में संलिप्त हत्यारे मिथुन व सत्यम को आलाकत्ल के साथ गिरफ्तार किया गिरफ्तार करने वाली टीम को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा 25000 नगद पुरस्कार दिया गया। झंगहा इलाके में दो किशोरों की हत्या कर उनका शव दफना दिया गया था पुलिस ने जब इस मामले की जांच की तो पता चला कि प्रेम संबंध में दोनों किशोर की बेरहमी से हत्या की गई है। जांच में सामने आया कि गांव की ही एक लड़की से पहले हत्यारोपी प्रेम करता था। लेकिन कुछ महीने से उस लड़की ने ब्वॉयफ्रेंड बदल दिया और मृतक आकाश से प्रेम करने लगी। इससे नाराज होकर हत्यारोपी ने पहले आकाश की कुल्हाड़ी से प्रहार कर हत्या कर दी। वहीं, पीछे से मृतक का दोस्त गणेश आया तो उसे भी मार डाला। हत्या कर दोनों का शव पास के गड्ढे में दफना दिया। पुलिस ने हत्यारोपी मिथुन कुमार उर्फ शिवम प्रताप पुत्र रामदयाल प्रसाद निवासी बनकटा थाना रामपुर कारखाना देवरिया हाल पता नवाबारी पलिया थाना गोरखपुर और उसका साथ देने वाले दोस्त सत्यम पुत्र ओमप्रकाश निवासी हरमापुर थाना गौरी बाजार देवरिया को गिरफ्तार किया दोनों ने अपना जुर्म भी कबूल कर लिया है। पुलिस ने हत्या में प्रयोग की गई कुल्हाड़ी भी बरामद कर ली है।
पुल‍िस के अनुसार, झंगहा इलाके के रहने वाले आकाश जायसवाल और गणेश जायसवाल 10 जनवरी की शाम से लापता थे। 25 जनवरी की दोपहर दोनों की लाश गांव के बाहर एक गड्ढे में गाड़ी हुई मिली थी। दोनों का हाथ बंधा था और सिर में चोट का निशान था। वहां से पुलिस ने एक मोबाइल भी बरामद किया था। मोबाइल का पुलिस ने सीडीआर निकलवाया और फोरेंसिक के लिए भेजा था। मृतक के मोबाइल से मिले नंबर के आधार पर हत्यारोपी को पकड़ने में पुलिस को आसानी हुई। पुलिस पहले दिन से ही प्रेम प्रसंग में हत्या की बात कह रही थी। पोस्टमॉर्टम में भारी चीज से प्रहार कर 15 दिन पहले हत्या होने की बात सामने आई।मुख्य हत्यारोपी 27 वर्षीय मिथुन देवरिया के रामपुर कारखाना का रहने वाला है। वह डीजे बजाने का काम करता है। वह झंगहा में पिता के नेवासे पर रहता है। उसकी प्रेमिका का घर भी उसके घर से 6 किलोमीटर दूर है। दोनों लंबे समय से प्यार करते थे और करीब 11 महीने एक साथ भी रहे हैं। ब‍िरादरी अलग होने के नाते बाद में दोनों अलग हो गए और घरवालों की बात मानकर प्रेमिका ने उससे बातचीत बंद कर दी। इधर कुछ माह से उसका संबंध मृतक आकाश जायसवाल से हो गया। यह बात हत्यारोपी पुराने प्रेमी मिथुन को नागवार गुजर रही थी और उसने हत्या की साजिश रच दी।
हत्यारोपी मिथुन ने सबसे पहले गांव के युवक सत्यम को दोस्त बनाया। सत्यम, आकाश का भी करीबी था। गांव के पास स्थित इंटर कालेज के पीछे ही जेसीबी से किसी ने मिट्टी का खनन कराया था। साजिश के तहत इसी में हत्या कर शव को छिपाना तय किया गया। आकाश को सत्यम के जरिए वहां बुलाया गया और उसका हाथ बांध दिया गया। उधर, आकाश की तलाश करते उसका दोस्त गणेश भी वहां पर पहुंच गया था। इसके बाद आरोपी ने कुल्हाड़ी से सिर पर प्रहार कर दोनों की हत्या कर दी। इसके बाद सत्यम के मदद से गड्ढे में शव को रखकर ऊपर से मिट्टी डाल दिया था।मुख्य आरोपी मिथुन साल 2020 में रेप के जुर्म में जेल जा चुका है। वह 9 महीने जेल में रहकर जमानत पर बाहर आया है। मिथुन का कहना है कि उसने लड़की के प्यार में यह हत्या की है। उसने ये भी कहा कि जो भी दोनों के बीच आएगा उसे मरना होगा। हत्या के बाद उसने कुल्हाड़ी को इंटर कालेज के पास के एक गड्ढ्रे में छिपा दिया था। अब पुलिस मामले में और भी साक्ष्य जुटा रही है। पुलिस यह भी जांच कर रही है कि क्या इस दोहरे हत्याकांड में स्कूल में पढ़ने वाली गांव की उस प्रेमिका का हाथ है या नहीं। गिरफ्तार करने वालों में प्रमुख रूप से प्रभारी निरीक्षक झगहा संतोष कुमार अवस्थी प्रभारी निरीक्षक स्वाट प्रदीप शर्मा उप निरीक्षक सर्विस लांस धीरेंद्र राय उपनिरीक्षक देवीशंकर पांडेय कांस्टेबल कमलापति तिवारी कांस्टेबल प्रभात मिश्रा का अशोक कुमार मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *