*मासूम गोलू की हत्या में कहीं तांत्रिक तो नहीं-*

मासूम गोलू की हत्या में कहीं तांत्रिक तो नहीं

गोरखपुर जिले के पिपराइच की घटना सेम खुलासा में हत्यारा तांत्रिक ही निकला था

 

ब्यूरो प्रमुख – एन अंसारी गोरखपुर

 

बांसगांव – गोरखपुर । गोरखपुर जिले के बांसगांव क्षेत्र भवरवा सिरसिया गांव से दो तारीख को गायब मासूम गोलू की लास छः तारीख को झाड़ियों में मिलने से हड़कम्प मच गया। इस घटना की आशंका जताई जा रही है। कि गोलू की हत्या कहीं ऐसा तो नहीं तांत्रिकों ने किया है।

कहीं ऐसा तो नहीं विगत माह पहले जैसे पिपराइच में मासूम की हत्या तांत्रिकों ने किया था वैसे ही बांसगांव क्षेत्र के गोलू की भी हत्या तांत्रिकों ने ही किया हो।

आपको बताते चलें कि बांसगांव क्षेत्र के सहोरवा सिरसिया निवासी अनिरुद्ध राजभर का मासूम बेटा गोलू राजभर की हत्या विगत माह पहले पिपराइच थाना क्षेत्र के एक 5 वर्षीय नागेंद्र निषाद का शव गन्ने की खेत में मिला था। गोरखपुर पुलिस की टीम मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल किया, तो मासूम नागेंद्र का हाथ पर बंधा था और मुंह में कपड़ा ठूंसकर हत्या की गई थी । वह भी इकलौता घर का चिराग था। गोरखपुर पुलिस काफी मशक्कत से जांच पड़ताल की तो मामला कुछ इस प्रकार सामने आया की हत्यारा तांत्रिक ही निकला था।

*कहीं ऐसा तो नहीं कि यह भी घटना तांत्रिकों ने ही किया है*

बताते चलें की कहीं ऐसा तो नहीं यह भी घटना तांत्रिकों ने ही किया है । गांव वालों के द्वारा दबी जुबान से पता चला कि चैत्र नवरात्रि चल रहा है हो सकता है की तांत्रिकों ने ही इस बच्चे को अपना शिकार बनाया है जबकि गांव वालों के द्वारा अनिरुद्ध राजभर का किसी से कोई विवाद नहीं है इस घटना से पूरा गांव सदमे में आ गया है वही यस पी साउथ अरुण कुमार सिंह से संबंध में बात करने का प्रयास किया गया तो मीटिंग मैं हूं कह कर डाल दिया और बात नहीं हो सकी बांसगांव थानाध्यक्ष ने बताया कि जांच चल रही है अभी कुछ पता नहीं चल रहा है कल देर शाम फॉरेंसिक टीम डॉग स्क्वायड व उच्चाधिकारी मौके पर पहुंच कर दीवाल पर तथा बिजली के खंभे पर पड़े खून के धब्बों का सैंपल लिया गया है हो सकता है कि इस घटना से संबंधित मामले का जल्द से जल्द खुलासा हो जाएगा कि क्या गलत है क्या सही है कहीं ऐसा तो नहीं जो गांव वाले कह रहे हैं की कहीं ऐसा तो नहीं इस घटना से संबंधित तांत्रिकों का ही हाथ है। वैसे पुलिस अपना काम कर रही है तो वहीं अगल बगल के गांव से 8 से 10 तांत्रिकों को थाने पर बैठा कर पुलिस मामले की पूछताछ कर रही है, कि मामले का जल्द से जल्द अनावरण हो सके, खबर लिखे जाने तक अभी इस घटना से संबंधित कोई ठोस प्रमाण पुलिस के हाथ नहीं लगा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *