गोरखपुर में रहस्यमय बुखार के मरीज बढ़े; कई स्कूलों में कक्षाएं हुई सस्पेंड; मंकी पॉक्स का संदिग्ध भी मिला;

जिला अस्पताल से लेकर मेडिकल कालेज की ओपीडी में बड़ी संख्या में बुखार के मरीज इलाज कराने पहुंचे।

गोरखपुर; महानगर में रहस्यमय वायरल बुखार के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। सोमवार को जिला अस्पताल से लेकर मेडिकल कालेज की ओपीडी में बड़ी संख्या में बुखार के मरीज इलाज कराने पहुंचे। मरीजों में सर्वाधिक संख्या बच्चों और किशोरों की है। सोमवार को जिला अस्पताल के बालरोग और मेडिसिन की ओपीडी में मरीजों की लंबी कतार लगी रही। इस बुखार से पीड़ित कुछ रोगियों के मुंह में छाले और शरीर पर लाल चकत्ते हो जा रहे हैं।

कई स्कूलों में एहतियातन कक्षाएं सस्पेंड;
गोरखनाथ, सिविल लाइंस, तारामंडल और खोराबार क्षेत्र के कई स्कूलों के छात्रों के बीमारी की चपेट में आने के बाद स्कूलों ने एहतियात बरतने शुरू कर दिए हैं। स्कूलों की प्राथमिक कक्षाओं के संचालन पर प्रबंधन ने रोक लगानी शुरू कर दी है। सोमवार को कुछ स्कूलों में पांचवीं तक की कक्षाओं के संचलन को एक हफ्ते के लिए स्थगित कर दिया गया।
डॉक्टर करा रहे कोविड जांच;
महानगर में फैले रहस्यमय बुखार की पहचान डॉक्टरों के लिए सिरदर्द बन गई है। मर्ज की पहचान के लिए डॉक्टरों ने मरीजों की कोविड जांच कराने की भी शुरूआत कर दी है। जबकि इन मरीजों में कोविड जैसे लक्षण नहीं है। इसके कारण अस्पतालों में कोविड जांच का ग्राफ सोमवार को उछल गया। सोमवार को एहतियातन हुई कोविड जांच का कोई खास परिणाम नहीं निकला। रहस्यमय बुखार से जूझ रहे मासूम कोविड की एंटीजन जांच में निगेटिव मिले।

मंकीपॉक्स का संदिग्ध मरीज मिला, सैंपल KGMU लखनऊ भेजा गया।

मंकीपॉक्स के संक्रमण का भी खतरा मंडराने लगा है। बीआरडी मेडिकल कॉलेज में मंकीपॉक्स का एक संदिग्ध मरीज भर्ती किया गया है। उसे आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। मरीज के लार व खून का नमूना केजीएमयू, लखनऊ को भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *