विधायक जॉइन कर सकते हैं भाजपा, उद्धव ठाकरे के बाद अब महाराष्ट्र में कांग्रेस को लगेगा तगड़ा झटका!

ब्यूरो रिपोर्ट – सुनील विष्णु चिलप, Rv9 News, महाराष्ट्र

महाराष्ट्र; राजनीति में घमासान अभी भी जारी है। पहले एकनाथ शिंदे ने उद्धव ठाकरे को चौंकाते हुए उनसे मुख्यमंत्री की कुर्सी छीन ली। इसके बाद संगठन स्तर पर भी लगातार चोट पहुंचा रहे हैं। वहीं, अब भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) महाराष्ट्र में कांग्रेस को कमजोर करने के लिए बिसात बिछा रही है। इतना ही नहीं, चर्चा तो यह भी है कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के दिग्गज नेता एकनाथ खडसे भी बीजेपी का दामन थाम सकते हैं। इसके अलावा महाराष्ट्र की राजनीति में इन दिनों एक नई चर्चा हो रही है। कहा जा रहा है कि जलगांव जिले में कांग्रेस विधायक शिरीष चौधरी कभी भी भाजपा में शामिल हो सकते हैं।

महाराष्ट्र में बीजेपी नेताओं के भाषणों के जरिए इस बात के संकेत मिल रहे हैं कि और भी कई कांग्रेसी नेता बीजेपी के संपर्क में हैं। हालांकि, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले का दावा इसके ठीक विपरीत है। उनका कहना है कि बीजेपी के कुछ नेता कांग्रेस के संपर्क में हैं। इन दावों के बीच महाराष्ट्र की सियासत गरमा गई है।

कहा जा रहा है कि बीजेपी ने कांग्रेस को झटका देने की तैयारी कर ली है। जलगांव जिले में भी रावेर से कांग्रेस विधायक शिरीष चौधरी के भाजपा में शामिल होने के साथ इसकी शुरुआत होगी।

विधायक शिरीष चौधरी ने भी बीजेपी में शामिल होने की बात पर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा, ”पिछले कुछ दिनों से मुझे भाजपा के कई कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों के फोन आ रहे हैं। लेकिन अभी ऐसी कोई स्थिति नहीं है कि मैं भाजपा में शामिल हो जाऊं।” उन्होंने कहा कि हम कई वर्षों से कांग्रेस के विचारों के प्रति निष्ठा से काम कर रहे हैं।

आगे उन्होंने कहा, ”यह एक अफवाह है। यह अफवाह भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ-साथ शुभचिंतकों द्वारा कांग्रेस कार्यकर्ताओं में भ्रम पैदा करने के लिए फैलाई जा रही है। लेकिन पार्टी को धोखा देने का कोई कारण नहीं है। कोई वजह होती तो बात और होती। अगर मैं ऐसा कोई स्टैंड लेता हूं तो मैं उसे स्पष्ट कर दूंगा। मेरा रोल हमेशा पहले भी साफ तौर पर बताया गया है। ऐसे में अब भी अगर ऐसा कुछ होता है तो मैं सबके सामने इसकी घोषणा कर दूंगा।” विधायक शिरीष चौधरी ने अफवाह फैलाने वालों से कहा है कि मैं ऐसा पदाधिकारी नहीं हूं जो इस तरह की चर्चाओं से अस्थिर हो जाऊं

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *