गोरखपुर शहर में जलभराव से हालात बेकाबू, एनडीआरएफ ने 34 लोगों का किया रेस्क्यू

ब्यूरो प्रमुख – एन. अंसारी, गोरखपुर

गोरखपुर: लगातार बारिश होने की वजह से सदर तहसील के कई वार्ड पूरी तरह से जलमग्न हो गए है और लोगो में डर का महौल व्याप्त है। आज जिला प्रशासन की सूचना पर एवं श्री मनोज कुमार शर्मा के दिशा निर्देश पर जिले में
राहत एवं बचाव कार्य के लिए तैनात एनडीआरएफ की टीम इंस्पेक्टर सभाजीत यादव के नेतृत्व में 30 सदस्यीय टीम ने बारिश की पानी से घिरे वार्ड नंबर 26 नरसिंहपुर मे बिना देरी किये रेस्कू ऑपरेशन प्रारम्भ कर दिया।
यहां बता दें कि, इस अभियान में किसी भी तरह की जान व माल की हानि के बिना सभी फंसे लोगो को सुरक्षित निकाला गया । एनडीआरएफ की टीम ने सकुशल तरीके से 34 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया । जिसमें 18 पुरुष, 12 महिलाएं एवं 4 बच्चे शामिल है । मौके पर मौजूद स्थानीय लोगों ने भी बचाव अभियान में अपना योगदान दिया। प्रशासन की चुस्ती और एनडीआरएफ की त्वरित कार्यवाही के कारण लोगों को सुरक्षित निकाला गया। जिला प्रशासन और स्थानीय लोगों द्वारा एनडीआरएफ के इस साहसिक कार्य की खूब प्रशंसा की जा रही है। बताते चलें कि गोरखपुर में बाढ़ के दौरान एनडीआरएफ की टीम पूरी मुस्तैदी के साथ डटी हुई थी एवं लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा रही थी। चाहे वह भरवलिया बसावनपुर का रिंग बांध टूटने से प्रभावित गांव हो या चौरीचौरा तहसील के अंतर्गत जोगिया का बांध टूट जाने से प्रभावित गांव हो एनडीआरएफ के जवान दिन रात मेहनत करके 11 बाढ़ प्रभावित घरों से लोगो को सुरक्षित बाहर निकाल रहे थे एवं राहत सामग्री भी पहुंचा रहे थे। टीम में तैनात सभी जवानों को कोविड-19 के कारण विशेष ट्रेनिंग दी गई है ताकि जवान खुद को सुरक्षित रखते हुए बाढ़ प्रभावित गांव में लोगों तक राहत पहुंचा सके। इस्पेक्टर सभाजीत यादव ने बताया कि आज 11 बजे दिन में जिला प्रशासन के द्वारा खबर दिया गया की सदर तहसील के वार्ड नंबर 26 नरसिंहपुर में बारिश की पानी का जलस्तर बढ़ने के कारण पानी घरों में घुस गया है और वहां के लोगों को बाहर निकालने की जरूरत है। जिसके आधार पर एनडीआरएफ की टीम यहां पहुंची है और रेस्क्यू ऑपरेशन चला कर सभी लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है।इस पूरे रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान स्थानीय विधायक श्री विपिन सिंह, नायब तहसीलदार सदर, राजस्व निरीक्षक प्रदुमन सिंह, स्थानीय लेखपाल उपस्थित थे। एनडीआरएफ टीम में मुख्य आरक्षी राजेंद्र, संजय सिंह, राम जनक चौरसिया, एवं सभी रेस्क्यूवर्स उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.