आराजी अमानी महिला की हत्या का पुलिस ने किया खुलासा पति ही निकला पत्नी का हत्यारा

आजमगढ़

 

प्रधान प्रतिनिधी को फ़साने के लिए रची साजिस

महराजगंज पुलिस ने विगत 30 मई को आराजी अमानी मे जमीनी विवाद को लेकर एक महिला की हत्या का खुलासा किया है |पुलिस के अनुसार वादी संतविजय यादव ने ही ग्राम प्रधान प्रतिनिधि तहसीलदार यादव और उनके सहयोगियों को झूठे मुकदमे मे फ़साने के लिए अपनी पत्नी अंतिमा की गोली मारकर हत्या कर दी और तहसीलदार यादव सहित कुल पांच लोगों के खिलाफ नामजद मुक़दमा पंजीकृत करा दिया | महराजगंज पुलिस ने प्रारंभिक विवेचना करते हुए प्रधान प्रतिनिधि तहसीलदार यादव को हिरासत मे लेकर पूछताछ शुरू कर दी |

 

पुलिस ने बताया कि विगत कुछ दिनों पूर्व भी वादी संतविजय यादव ने अपने पिता को जान से मारने की नियत से गोली मारने का आरोप तहसीलदार यादव सहित तीन लोगों पर लगाते हुए तहरीर दी थी जिसके आधार पर स्थानीय थाने मे धारा 307 सहित अन्य धाराओं मे मुक़दमा पंजीकृत कर जाँच मे जुटी हुई थी कि उसके कुछ दिने बीते भी नहीं थे कि वादी ने तहसीलदार यादव और उनके सहयोगिओं द्वारा उसकी पत्नी को गोली मारकर हत्या करने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी |विगत कुछ ही दिनों मे एक ही विवाद मे दो गोली कांड ने पुलिस के होस उड़ा दिए और पुलिस पूरी तत्परता से छानबीन मे जुट गयी | पुलिस की माने तो वादी से कड़ाई से पूछताछ करने पर उसने सारी घटना बताते हुए सच्चाई कुबूल करते हुए अपने भाई कन्हैया यादव के साथ मिलकर हत्या की साजिस को अंजाम देने की बात स्वीकार किया और हत्या मे प्रयुक्त अवैध तमंचे के साथ तीन जिन्दा कारतूस व एक खोखा को उसके निशानदेही पर बरामद भी कर लिया गया है | महराजगंज पुलिस ने आवश्यक विधिक कार्यवाही कर संतविजय और उसके भाई कन्हैया को न्यायालय भेज दिया |आपको बतादे की सुत्रो से पता चला है की इस हत्या मे संलिप्त साजिश कर्ता पर निगरानी रखी जा रही है।

बाईट – सिद्धार्थ, अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण आजमगढ़

Leave a Reply

Your email address will not be published.