महराजगंज के नवरतन से मिलेंगे पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव;

महराजगंज के नवरतन से मिलेंगे पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव;

मासूम का वायरल वीडियो देख बुलाया सैफई

महराजगंज; सपा के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के देहावसान की सूचना पर अकेले ट्रेन में बैठकर सैफई जा रहे 10 वर्षीय नवरतन यादव ऊर्फ साजन का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल होने के बाद वह चर्चा में आ गया है। नवरतन के बारे में जानकारी होने पर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उसे मिलने के लिए सैफई बुलाया है। शुक्रवार की दोपहर पूर्व विधायक मुन्ना सिंह व निवर्तमान जिलाध्यक्ष आमिर हुसैन उसे लेकर सैफई के लिए रवाना हो गए हैं।

साइकिल लेकर गांव-गांव घूमकर प्रचार करता है साजन;
महराजगंज जिले के मलनी फुलवरिया गांव निवासी सिकंदर यादव का पुत्र नवरतन यादव ऊर्फ साजन गांव के प्राथमिक विद्यालय में कक्षा पांच का छात्र है। इस छोटी उम्र में ही वह साइकिल लेकर गांव-गांव घूम समाजवादी पार्टी का प्रचार भी करता है। पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के देहावसान की सूचना मिलने पर वह बिना स्वजन को बताए अकेले सैफई जाने के लिए सोमवार को लक्ष्मीपुर स्टेशन पर ट्रेन में बैठ गया। गोरखपुर स्टेशन से वह दूसरी ट्रेन पकड़ कर सैफई के लिए रवाना हो गया।

 गलत रास्ता बताने के वजह से भटक गया बच्चा
नवरतन ने बताया कि इटावा पहुंचने पर कुछ लोगों ने गलत रास्ता बता दिया। जिससे सैफई न जाकर कानपुर चला गया। वहां बच्चे को अकेला देख कानपुर रेलवे स्टेशन पर जीआरपी के जवानों ने उसे रोककर जब जानकारी ली, तो उसने पूरा घटनाक्रम बताते हुए घर जाने की इच्छा व्यक्त की। जिस पर जवानों ने पिता सिकंदर यादव से बात की। बेटे के कानपुर होने की सूचना मिलते ही पिता व चाचा कानपुर रवाना हो गए। गुरुवार रात आठ बजे के करीब दोनों लोग उसे लेकर गांव पहुंचे।

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बच्चे को बुलाया सैफई;
गुरुवार को नवरतन व जीआरपी पुलिस के संवाद का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल होने से देखते ही देखते वह चर्चा में आ गया। इस बात की जानकारी जब पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को हुई तो उन्होंने नवरतन से मिलने की इच्छा व्यक्त की। शुक्रवार की सुबह नौ बजे के करीब उन्होंने निवर्तमान जिलाध्यक्ष से बच्चे के बारे में जानकारी कर उसका कुशल क्षेम पूछा। जानकारी होने पर पूर्व विधायक कुंवर कौशल सिंह ऊर्फ मुन्ना सिंह नवरतन यादव के घर गए तो उसने भी सैफई चलकर अखिलेश यादव से मिलने की इच्छा व्यक्त की। निवर्तमान जिलाध्यक्ष आमिर हुसैन ने बताया कि राष्ट्रीय अध्यक्ष का सुबह फोन आया था। वह नवरतन को लेकर चिंतित थे कि वह सकुशल घर पहुंच गया या नहीं। हम लोग उसे लेकर सैफई जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *