ब्लाक प्रमुखी चुनाव में पारदर्शिता सवाल!

  • विकास खण्ड उरुआ में पुलिस प्रशासन के निगरानी में सम्पन्न हो रहा चुनाव
  • पुलिस प्रशासन पब्लिक से अधिक मीडिया से रही सतर्क ,

ब्यूरो रिपोर्ट- हरेन्द्र कुमार यादव 

गोरखपुर| उत्तर प्रदेश सरकार मीडिया पर आजादी को लेकर लाख गाइड लाइन जारी करती हो, लेकिन सरकारी आदेशो के पालन में पुलिस कितनी अमल करती है । चुनावी समर में दिख रहा । जहां मुख्य रूप से मिडीया का होना जरूरी हो, यहाँ अधिकारी की मनमानी झलक रही है । ऐसा प्रतीक ह्यो रहा पंचायती चुनाव में खास तौर पर मीडिया ही पुलिस ब्यवस्था में बाधा बनती नजर आ रहा है।
चुनाव जो भी हो पंचायती चुनाव में कितनी पारदर्शिता है आज झलक रही है । पूर्व सरकार व आज के सरकार में कोई फर्क नही नजर आ रहा है ।
विकास खण्ड उरुआ में ब्लाक प्रमुख चुनाव को लेकर ब्लाक क्षेत्र परिसर से आधा किलो मीटर दूरी पर रोक बीडीसी मतदाताओं को जाने की अनुमति दी गयी है ।
सीओ खजनी इंदु प्रभा सिंह सहित एसपी ट्रैफीक सीओ क्राइम तैनात रहें । सवाल यह उठ रहा आखिर! ब्लाक प्रमुख चुनाव में पत्रकार भीड़ का हिस्सा क्यो बना हुआ है । आम पब्लिक की भांति प्रेस इंट्री वर्जित का दुहाई क्यो दी जा रही है । विकास खण्ड उरुआ में ब्लाक परिसर आधा किलोमीटर दूरी के मुख्य मार्ग पर ही जिनको कवरेज करने का फरमान जारी हो रहा । जो ब्लाक मुख्य मार्ग से लगभग आधा किलो मीटर दूरी पर स्थित था । मौके पर एसपी ट्रैफिक
ए आर गौतम, सीओ क्राइम बीपी सिंह मुख्य मार्ग पर आसीन थे । चुनाव प्रशासन के नेतृत्व में सम्पन्न हो रहा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.